एडम ज़म्पा ने एमसीजी में फॉर्म में वापसी करने के लिए डेविड वार्नर का किया समर्थन

AAP

शनिवार (10 फरवरी) को ट्वेंटी -20 ट्राई सीरीज में इंग्लैंड के खिलाफ टूर्नामेंट में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन हासिल करने के लिए डेविड वॉर्नर को संघर्ष करना पड़ा, जिसके बाद ऑस्ट्रेलियाई लेग स्पिनर एडम ज़म्पा ने उनका समर्थन किया हैं | 

हालांकि, टेस्ट सीरीज के लिए चुने गए एकमात्र टेस्ट खिलाडी वॉर्नर, दोनों ही मैचों में असफल रहे, क्योंकि एशेज के बाद से उसका खराब प्रदर्शन जारी है | उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की वनडे सीरीज़ में 14 की औसत से केवल 73 रन ही बनाये थे |

हालांकि, ऑस्ट्रेलिया को भरोसा है कि थकाऊ वॉर्नर लगातार त्रिकोणीय सीरीज में टीम का नेतृत्व करना जारी रखेंगे, जो कि तीन खेलो के बाद न्यूजीलैंड में स्थान्तरित हो जायेगा |

क्रिस बुज़ कि रिपोर्ट के अनुसार ज़म्पा ने कहा हैं कि, "उनका (वार्नर) आचरण वास्तव में अच्छा रहा है |वह शायद जिस तरह से वह प्रदर्शन कर रहे है, उससे वह खुश नहीं है, लेकिन वह अपनी कप्तानी में और प्रशिक्षण सत्रों में जो छोटी-छोटी चीजों में अपनी जो ताकत लाते हैं और वह आपके लिए अलग-अलग प्रतिक्रिया देते हैं, यह वास्तव में अच्छी हैं |"

उन्होंने कहा कि, "डेवी के बारे में, वह जिस तरह से मैदान में खेलते है और जिस तरह के व्यक्ति वे वह होते हैं, वह एक ऊर्जावान आदमी होता है | जब तक वह रन नहीं बना रहे  है, जितना वह चाहें उतना ही, उनकी ऊर्जा और व्यवहार टीम के चारों ओर बहुत ही अच्छी तरह से फैली हुई हैं |"
 
ज़म्पा को दो खेलो के लिए टीम से बाहर कर दिया गया था | जिसके बाद टीम में दो स्पिनर ट्राविस हेड और एश्टन अगर को शामिल किया गया था | लेकिन 25 वर्षीय का मानना ​​था कि T20 क्रिकेट में दो स्पिनरों को शामिल करने के लिए योग्यता थी | उन्होंने कहा कि, "यह उन सवालों में से एक है जो मैंने दूसरी रात (चयनकर्ताओं) से पूछा था | दुनिया भर के कई देशों ने दो कलाई वाले स्पिनरों का चयन किया है |'
 
ज़म्पा ने कहा कि, "मुझे लगता है कि वे (इंग्लैंड) निश्चित रूप से पांसे कि भूमिका निभाते हैं, लेकिन जिस तरह से ये लोग प्रदर्शन करते हैं, मुझे लगता है कि उस सीमा का कोई दृष्टिकोण नहीं है | मुझे लगता है कि शायद यह ट्वेंटी20 क्रिकेट में आगे जाने का रास्ता है |"


By Pooja Soni - 09 Feb, 2018

    Share Via