आईसीसी कार्यकारी समूह दिल्ली में बीसीसीआई अधिकारियो के साथ करेगा बैठक

गुरुवार को आईसीसी का कार्यकारी समूह दिल्ली में बीसीसीआई के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक करेगा |

पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार इस बैठक में टेस्ट क्रिकेट के भविष्य के साथ ही विश्व क्रिकेट के कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की जाएगी | आईसीसी का कार्यकारी समूह नीतियों को निर्धारित करता है और फिर हितधारकों (सदस्य देश, प्रायोजक) से उस पर प्रतिक्रिया लेता है |

साथ ही इस बैठक में बीसीसीआई के कार्यकारी अध्यक्ष सीके खन्ना, कार्यकारी सचिव अमिताभ चौधरी, कोषाध्यक्ष अनिरूद्ध चौधरी और सीईओ राहुल जोहरी को आईसीसी कार्यकारी समूह की प्रगति के बारे में जानकारी दी जा सकती हैं |

खबरों के अनुसार इस की बैठक की चर्चा मुख्य रूप से खेल के सामने आने वाली चुनौतियों विशेषकर टेस्ट क्रिकेट को जीवंत रखने, दर्शकों को आकर्षित करने के तरीकों और T20 की तेजी से बढ़ती लोकप्रियता पर केंद्रित किया जायेगा |

सभी हितधारकों से प्रतिक्रिया प्राप्त करने के बाद ही कार्यकारी समूह व्यापक रिपोर्ट तैयार करेगा | डे-नाईट टेस्ट क्रिकेट पर भी चर्चा करने की संभावना है | हाल ही में खबरे थी कि कार्यकारी सचिव अमिताभ चौधरी वेस्टइंडीज के खिलाफ गुलाबी गेंद से टेस्ट मैच खेलने के पक्ष में हैं, जिस पर शुरुआत में टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने भी सहमति जताई थी |

लेकिन अब भारतीय टीम प्रबंधन ने प्रशासकों की समिति (सीओए) से कहा है कि दूधिया रोशनी में टेस्ट मैच के लिए तैयार होने के लिये उन्हें कम से कम 18 महीने का समय लगेगा | मंगलवार को बीसीसीआई के कार्यकारी अध्यक्ष सीके खन्ना ने कहा हैं कि, "टेस्ट क्रिकेट अंतिम प्रारूप है और मुझे पूरा भरोसा है कि सभी हितधारक इस दिलचस्पी के स्तर को बनाए रखने के लिए एक सही तरीका ढूंढेंगे | मेरा मानना ​​है कि सभी तीन प्रारूप सह-अस्तित्व में हो सकते हैं | मुझे उम्मीद है कि बीसीसीआई द्वारा दिए गए सुझावों को गंभीरता से लिया जाएगा |"

टेस्ट मैचों में दर्शकों की कमी आईसीसी के लिए एक चिंता का विषय रहा है और आम भावना है कि डे-नाईट टेस्ट से ही इस प्रारूप को बचाया जा सकता है | 


By Pooja Soni - 16 May, 2018

    Share Via