तुषार अरोठे ने कहा कि उनके और खिलाडियों के बीच के मतभेद सही तरह से नहीं संभाले गए

तुषार अरोठे | getty

विराट कोहली-अनिल कुंबले के बीच विवाद एक बार फिर से दोहराया जा रहा हैं, जिसके चलते भारतीय महिला टीम के कोच तुषार अरोठे ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया हैं | 

इसके पहले वरिष्ठ खिलाड़ी मिताली राज और हरमनप्रीत कौर ने प्रशासकों की समिति (सीओए) से मुलाकात कर अरोठे के काम करने की शैली के प्रति अपनी नापसंद को व्यक्त किया था | यह कोच और वरिष्ठ खिलाड़ियों के बीच मनमुटाव का एक और मामला था |

जबकि अरोठे का कहना हैं कि वह व्यक्तिगत कारणों की वजह से अपने पद को छोड़ रहे हैं | साथ ही वह सीओए के पूरे मामले को संभालने के तरीके से बहुत खुश नहीं थे | टाइम्स ऑफ़ इंडिया से बात करते हुए अरोठे ने कहा हैं कि, "मेरी, खिलाड़ियों और किसी अन्य सहायक स्टाफ के बीच कोई मनमुटाव नहीं है | मैं व्यक्तिगत कारणो की वजह से अपने पद को छोड़ रहा हूँ | मैं कामना करता हूँ कि आगामी सीरीज़ में और विश्व कप में लड़कियों अच्छी तरह से खेले |"

"क्यों मुझे और खिलाड़ियों को इसका निपटारा करने लिए अलग-अलग बुलाया गया था? हर किसी को एक साथ बुलाया जाना चाहिए था |"

प्रशिक्षण विधियों पर चर्चा की गई थी, क्योंकि अरोठे खिलाड़ियों के लिए दिन में दो सत्र रखना चाहते थे, जबकि खिलाड़ी एक लंबा सत्र चाहते थे | लेकिन कोच ने यह स्पष्ट कर दिया कि प्रशिक्षण सत्रों की योजना बनाना कोचिंग स्टाफ का निर्णय था |
 
अरोठे ने कहा हैं कि, "आप लड़कियों द्वारा अभ्यास विधियों को निर्धारित करने की अनुमति नहीं दे सकते हैं | अगर ये लड़कियां कुछ हासिल करना चाहती हैं, तो उन्हें अपने आराम क्षेत्र से बाहर निकलना होगा |"


By Pooja Soni - 11 Jul, 2018

    Share Via