AUS v IND 2018-19 : अनिल कुंबले के अनुसार जसप्रीत बुमराह बना रहे हैं अपने विकेटों और खेल को नियंत्रित करने की योजना

जसप्रीत बुमराह | Getty

चार टेस्ट मैचों की सीरीज की समाप्ति के साथ ही जसप्रीत बुमराह सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ी रहे और साथ ही उन्होंने भारत की ऐतिहासिक टेस्ट सीरीज जीत में टीम में बहुत ही अहम भूमिका निभाई | बुमराह ने सीरीज में सिर्फ 17 के औसत से कुल 21 विकेट लिए थे|

क्रिकेटनेक्स्ट के साथ एक साक्षात्कार में बुमराह के शानदार टेस्ट करियर की शुरुआत के बारे में बात करते हुए पूर्व भारतीय कप्तान अनिल कुंबले ने कहा हैं कि, गुजरात का ये तेज़ गेंदबाज़ हमेशा ही टेस्ट क्रिकेट के लिए रडार पर रहा हैं|

कुंबले ने कहा कि, "मुझे लगता हैं कि हमेशा ही वह टेस्ट क्रिकेट के रडार पर चुने गए गए हैं| उन्होंने डोमेस्टिक क्रिकेट में बहुत ही अच्छा प्रदर्शन किया हैं| मेरा मतलब हैं कि जिस तरह से उन्होंने गुजरात के लिए गेंदबाज़ी की हैं| उन्होंने पांच विकेट हॉल लिए हैं| जब भी गेंदबाज़ लगातार डोमेस्टिक मैचों में पांच विकेट हॉल लेता हैं, तो आप जानते हैं कि उनकी मानसिक क्षमता पांच विकेट हॉल लेने की ही हैं|"

कुंबले के अनुसार तेज़ गेंदबाज़ के पास अपने विकेट की योजना की क्षमता हैं| उन्होंने कहा हैं कि, "आप उनके विकेट लेने की योजना को और मैच को नियंत्रित करने की क्षमता को देख सकते हैं और वह जानते हैं कि उन्हें कब गेंद फेंकनी हैं| मुझे लगता हैं बल्लेबाज़ को सेट करना और कठोरता में बल्लेबाज़ से लगातार विकेट लेने और बल्लेबाज़ को वास्तव में ईमानदार बनाये रखने के बारे में हैं|"

पूर्व भारतीय कोच ने कहा हैं कि, "हम उन्हें क्रियान्वित करने की योग्यता के साथ देखा हैं कि वह क्या सोचते हैं, मेरा मतलब हैं कि जब आपमें विश्वास होता हैं, तभी आप ऐसा कर सकते हैं और अगर आपके पास अन्य सभी विचारो को निकालने की क्षमता हैं, तो ही आप दौड़ते हैं| ऐसा इसलिए क्योकि दिन के अंत में, आप गेंदबाज़ हो, बल्लेबाज़ हो या फिर एक कप्तान ही क्यों न हो, आपको मत की स्पष्टता बहुत ही महत्वपूर्ण हैं| इसलिए यहाँ बुमराह में मत की स्पष्टता की प्रक्रिया हैं और यह आप उनमे स्पष्ट रूप से देख सकते हैं|" 
  


By Pooja Soni - 09 Jan, 2019

    Share Via