आईसीसी ने श्रीलंकाई क्रिकेट में भ्रष्ट आचरण के संबंध में 15-दिवसीय क्षमादान की घोषणा की

एलेक्स मार्शल

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने बुधवार को उन प्रतिभागियों को 15-दिवसीय माफी देने की घोषणा की हैं, जो पहले श्रीलंकाई क्रिकेट में भ्रष्ट आचरण के संबंध में कोई भी जानकारी देने में विफल रहे हैं|

ये क्षमादान, जो 16-31 जनवरी तक चलेगा, आईसीसी और श्रीलंकाई क्रिकेट एंटी-करप्शन कोड दोनों के तहत सभी प्रतिभागियों पर लागू किया जायेगा| इन संहिताओं के तहत, घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय दोनों प्रतिभागियों को बिना किसी देरी के किसी भी दृष्टिकोण, घटना या जानकारी के भ्रष्ट आचरण में संलग्न होने के लिए रिपोर्ट करने के लिए बाध्य किया जाता है|

ऐसा करने में विफल होना एक गंभीर अपराध है और जिसके परिणामस्वरूप उन्हें पांच साल तक के लिए क्रिकेट से प्रतिबंधित किया जा सकता है| हालांकि, क्षमादान के तहत, एक प्रतिभागी द्वारा बताई गई कोई भी जानकारी पहले रिपोर्ट करने में उनकी विफलता के लिए एक शुल्क को आकर्षित नहीं करेगी|

पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार आईसीसी भ्रष्टाचार निरोधक महाप्रबंधक एलेक्स मार्शल ने बताया हैं कि “यह पहली बार है जब आईसीसी ने एक क्षमादान का आयोजन किया है और यह श्रीलंका में हमारे सामने आने वाली बहुत ही विशिष्ट चुनौतियों की प्रतिक्रिया में है| भ्रष्ट आचरण में लिप्त होने के लिए कथित दृष्टिकोणों की पूर्वव्यापी रिपोर्टिंग करने से हमारी जारी और व्यापक जांच में मदद मिलेगी, साथ ही हमें वहाँ की व्यापक तस्वीर विकसित करने के लिए जारी रखने में सक्षम बनाया जाएगा|

उन्होंने आगे बताया हैं कि, “यदि किसी भी खिलाड़ी या प्रतिभागी को भ्रष्ट आचरण से संबंधित कोई भी जानकारी है तो उन्हें आगे आना चाहिए और बिना किसी आशंका के डर के हमारे साथ इसे साझा करना चाहिए| हम किसी भी जानकारी के साथ किसी भी प्रतिभागी से आग्रह करेंगे जो श्रीलंका में क्रिकेट को प्रभावित करने वाले भ्रष्ट आचरण को प्रदर्शित कर सकता है, जो विश्वास के सबसे कड़े रूप में आगे आए हैं|"


By Pooja Soni - 10 Jan, 2019

    Share Via