रोशन सिल्वा ने श्रीलंका की मजबूत बढ़त हासिल करने के बाद दिया ये बयान

AFP

शुक्रवार (9 फरवरी) को श्रीलंका के बल्लेबाज रोशन सिल्वा ने स्वीकार किया हैं कि जिसके तरह की परिस्तिथियों का हम सामना कर रहे हैं, उसके लिए हम मानसिक रूप से पहले ही तैयार थे |

हालांकि, मध्यक्रम में रोशन सिल्वा ने अर्धशतक लगाते हुए टीम का स्कोर 200 रनों पर पहुँचाया| रोशन ने मीरपुर में संवाददाताओं से बात करते हुए कहा हैं कि, "हम अपने घरेलु मैदान पर भी इसी तरह की विकेटों पर खेलते हैं | हम बस जितना संभव हो उतना खेलना चाहते थे | मैं यह नहीं कहूंगा कि यह एक अच्छा विकेट है, लेकिन मानसिक रूप से हमें पता था कि यह बदलेगा | भगवान का शुक्र है कि, मैंने मुस्ताफ़िज़ुर रहमान की पहली कुछ गेंदों में आउट नहीं हुआ | आपने देखा होगा कि यह वास्तव में  बहुत ही ख़राब थी | मैं इसके बारे में नहीं सोचना चाहता हूँ, कि ऐसा फिर से होगा |"

"उपमहाद्वीप में जब ऑस्ट्रेलिया या अन्य टीमें आती हैं तो हमे इसी तरह की इस विकेट मिलती हैं, लेकिन श्रीलंका के पास अच्छा स्पिन आक्रमण है | मुझे नहीं पता कि उन्होंने इस तरह की विकेट क्यों दी |"

हालाँकि रोशन ने कहा कि वे इस तरह के विकेट में खेलने के लिए मानसिक रूप से तैयार थे, क्योंकि उपमहाद्वीप में कुछ भी हो सकता हैं | उन्होंने कहा कि, "उपमहाद्वीप में, आपको स्पिनरों और रिवर्स स्विंग के लिए तैयार रहना होगा | जब आप ऑस्ट्रेलिया या वेस्टइंडीज में जाते हैं तो आपको तेज़ गेंदबाज़ी आक्रमण के लिए तैयार रहना होगा |"

उन्होंने कहा कि, "यहां आने से पहले हमने कड़ी मेहनत की थी | हम जानते थे कि किस तरह की परिस्थितियों और गेंदबाजों का हमे सामना करना हैं | मैं मानसिक रूप से तैयार था | घरेलू स्तर पर मैंने जो रन बनाये हैं, वह मुझे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में रन बनाने में मदद नहीं करेगा |"

रोशन ने कहा हैं कि विकेट खेलने के लिए मुश्किल हो रही है और बताया कि, "बल्लेबाजी करने से पहले, प्रार्थना करना सबसे अच्छी बात है | मैं सिर्फ मजाक कर रहा हूं | अगर आपको इस विकेट पर अच्छी गेंद मिलती है, तो आपको इससे मदद नहीं मिल सकती हैं | आप अचानक से एक या दो विकेट गंवा सकते हैं | आपको अव्यवस्थित गेंदों पर रन बनाने होंगे |"
 
साथ ही उन्होंने कहा हैं कि, "मुझे नहीं लगता कि इस विकेट पर 300 से ज्यादा रन प्राप्त करना संभव है | यह एक सामान्य बात है, लेकिन क्रिकेट एक मजेदार खेल है | हमने उन्हें 100 से ज्यादा रनो पर गेंदबाज़ी करने दिया और हम ने वास्तव में 300 से ज्यादा रन बनाये | 

 


By Pooja Soni - 10 Feb, 2018

    Share Via