×
SRI LANKA vs INDIA Latest News Featured COC Interviews Domestic COC Hindi Social Scoop Gallery Humour

अदालत में अज़हर ने हैदराबाद क्रिकेट संघ के चुनावों को दी चुनौती

By Pooja Soni -


मंगलवार को भारतीय टीम के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने हैदराबाद क्रिकेट संघ के अध्यक्ष पद के चुनावों को अदालत में चुनौती दे दी | गौरतलब है कि अध्यक्ष पद के लिए उनके नामांकन को ख़ारिज कर दिया गया था | जिस से अज़हर इस फैसले से बेहद दुखी थे | अजहर ने नामांकन भरने के बाद कहा था कि वे हैदराबाद क्रिकेट की हालत सुधारना चाहते हैं | उन्होंने कहा कि हैदराबाद टीम रणजी के सेमीफ़ाइनल में भी नहीं पहुंची, वहीं अहम खिलाड़ी टीम छोड़कर जा रहे हैं |

अज़हर ने यह आरोप भी लगाया था कि हैदराबाद क्रिकेट संघ में भाई-भतीजावाद और भ्रष्टाचार बेहद ज़्यादा है | उनके मुताबिक अंडर 14 क्रिकेट में हर मैच में 6 नए खिलाड़ी शामिल कर लिए जाते हैं |

अज़हर ने 99 टेस्ट मैच खेले और 22 शतक के साथ 6 हज़ार से ज्यादा रन और 334 वनडे में 7 शतकों के साथ 9 हज़ार से ज्यादा रन बनाए थे, लेकिन बीसीसीआई ने साल 2000 में मैच फ़िक्सिंग की वजह से उन्हें लाइफ़ बैन की सज़ा सुना दी थी | हालांकि आंध्रप्रदेश हाई कोर्ट ने 8 नवंबर 2012 को सबूतों के अभाव में अज़हरुद्दीन से लाइफ़ बैन को हटाने की बात कही |


प्रेस से बात करते हुए अज़हर ने अपने नामांकन के रद्द होने के बाद अपनी नाराज़गी जताई थी | अज़हर ने कहा था, "ये पूरी प्रक्रिया ही मुझे धोखाधड़ी से भरी हुई लगती है | उन्होंने चुनाव में लगातार देरी की | उन्होंने मुझसे जो भी सवाल पूछे मैंने उसका जवाब दिया | उन्होंने बीसीसीआई के बारे में पूछा तो मैंने उन्हें कोर्ट का ऑर्डर दिखाया | इन सबके बावज़ूद मेरा नामांकन रद्द कर दिया गया | जिससे मैं बहुत दुखी हूं |"

अज़हर ने यह आरोप भी लगाया कि मीडिया के कुछ लोग हमेशा बीसीसीआई और लाइफ़ बैन की बात सामने ले आते हैं | उनके अनुसार यह मामला अब खत्म हो चुका है |